rhea chakraborty will spend night at her house her lawyer Satish Maneshinde said ड्रग्स केस: महीनेभर बाद आज रिया अपने घर बिताएंगी रात, वकील ने कहा

सुशांत सिंह राजपूतुसाइड को ड्रग प्रोक्योर करने के आरोप में एनसीबी (एनसीबी) द्वारा हिरासत में ली गई एक्ट्रेस प्रधान चक्रवर्ती (रिया चक्रवर्ती) को जेल में रहने के महीनेभर बाद जमानत पर रिहा किया जाएगा।

रया शोयक

राजकुमार को मिला जमानत (फोटो साभार: फाइल फोटो)

नई दिलवाली:

सुशांत सिंह राजपूतुसाइड को ड्रग प्रोक्योर करने के आरोप में एनसीबी (एनसीबी) द्वारा हिरासत में ली गई एक्ट्रेस प्रधान चक्रवर्ती (रिया चक्रवर्ती) को जेल में रहने के महीनेभर बाद जमानत पर रिहा किया जाएगा। हालांकि, अभी भी उनके भाई शोविक चक्रवर्ती को जेल में ही रहना होगा, क्योंकि उन्हें जमानत नहीं मिली है। प्रधान के वकील सतीश मानेशिंदे ने कहा कि प्रधान को आज रिहा कर दिया जाएगा।

अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत से जुड़े मामले में मादक-पदार्थों को लेकर आरोपों में गिरफ्तार अभिनेत्री प्रधान चक्रवर्ती को बिलासपुर उच्च न्यायालय ने बुधवार को जमानत दे दी और निजी मुचलके के तौर पर एक लाख रुपये जमा करने का निर्देश दिया। न्यायमूर्ति सारंग कोतवाल की पीठ ने राजपूत के सहयोगी दीपक सावंत और सैमुअल मिरांडा को भी जमानत दे दी, लेकिन प्रधान के भाई और मामले में आरोपी शौकीन की जमानत याचिका खारिज कर दी।

अदालत ने कथित मादक पदार्थ तस्कर अब्देल बासित परिहार की याचिका भी खारिज कर दी। अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत से संबंधित मादक पदार्थ मामले की जांच के सिलसिले में स्वापक नियंत्रण ब्यूरो (एनसीबी) ने प्रमुख और उनके भाई को पिछले महीने गिरफ्तार किया था। अन्य आरोपियों को भी मामले की जांच के दौरान एनसीबी ने गिरफ्तार किया था।

उच्च न्यायालय ने प्रधान चक्रवर्ती को जमानत देते हुए उन्हें एनसीबी को अपना पास सौंपने और विशेष एनडीपीएस अदालत की अनुमति के बिना देश के बाहर ना जाने का निर्देश दिया। पीठ ने उन्हें एनसीबी की आज्ञा के बिना मुम्बई से बाहर ना जाने और जफर पर बाहर रहने के दौरान सबूतों के साथ छेड़छाड़ ना करने को भी कहा।

अदालत ने प्रधान से निजी मुचलके के तौर पर एक लाख रुपये जमा कराने और रिहाई के बाद पत्रों के 10 दिन प्रबंधित पुलिस थाने में पेश होने का निर्देश भी दिया। अदालत ने कहा कि प्रधान के अलावा जिन लोगों को जमानत दी गई है, उन्हें भी मुम्बई से बाहर जाने के लिए एनसीबी के जांच अधिकारियों की अनुमति लेनी होगी। एनडीपीएस की विशेष अदालत के जमानत याचिकाओं को खारिज करने के बाद प्रधान और उनके भाई ने उच्च न्यायालय का रुख किया था।

न्यायमूर्ति सारंग कोतवाल ने अपने फैसले पर स्थगन लगाने का एनसीबी का अनुरोध स्वीकार करने से इनकार कर दिया, ताकि एजेंसी आदेश को चुनौती दे सके। उन्होंने कहा कि मैंने पहले ही जमानत के लिए बड़ी सख्ती रखी है। प्रधान के वकील सतीश मानशिंदे ने कहा कि वह फैसले से खुश हैं।

उन्होंने कहा कि सत्य और न्याय की जीत हुई है और अंतिम तथ्यों और कानूनी तथ्यों को न्यायमूर्ति सारंग वी कोतवाल द्वारा स्वीकार किया गया है। गौरतलब है कि राजपूत (34) इस साल 14 जून को बांद्रा स्थित अपने आवास पर मृत पाए गए थे। बिलासपुर उच्च न्यायालय ने पिछले सप्ताह मामले पर सुनवाई के बाद याचिकाओं पर फैसला सुरक्षित रख दिया था। अतिरिक्त सॉलिसिटर जनरल अनिल सिंह के जरिए एनसीबी ने अदालत में जमानत याचिकाओं को लेकर विरोध किया था।



प्रथम प्रकाशित: 07 अक्टूबर 2020, 05:16:30 अपराह्न

सभी के लिए नवीनतम मनोरंजन समाचार, बॉलीवुड नेवस, न्यूज नेशन डाउनलोड करें एंड्रॉयड तथा आईओएस मोबाईल ऐप्स।



Source link
#rhea #chakraborty #spend #night #house #lawyer #Satish #Maneshinde #डरगस #कस #महनभर #बद #आज #रय #अपन #घर #बतएग #रत #वकल #न #कह

Leave a Comment